सिगरेट और शराब करती है ह​ड्डियां कमजोर

osteo_po
osteo_poब्यूरो। सिगरेट और शराब के सेवन से आपकी हड्डियां कमजोर हो जाती है। रिसर्च में ये बात सामने आई हैं कि अधिक सिगरेट और शराब के सेवन से शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाती है। इसका सीधा असर सेहत पर पड़ता है। कैल्शियम की कमी के कारण आप आॅस्टियोपोरोसिस के शिकार हो सकते है। आइये जानते हैं क्यों है आॅस्टियोपोरोसिस और इससे बचने के लिए क्या कर सकते हैं उपाय। 
 
ऑस्टियोपोरोसिस क्या है?
हड्डी रोगों के कई प्रकार होते हैं। सबसे आम ऑस्टियोपोरोसिस है। हड्डियों की कमजोरी के साथ, हमारी हड्डियां कमजोर हो जाती हैं और टूटने की और अधिक संभावना हो जाती है। हड्डियों की कमजोरी के साथ लोगों को सबसे अधिक बार कलाई, रीढ़ की हड्डी, और कूल्हे में हड्डियों में शिकायत आती है। हमारी हड्डियां भी जीवित हैं। हर दिन, हमारे शरीर की पुरानी हड्डी टूट जाती है और उसके स्थान पर नई हड्डी बनती है। उम्र बढ़ने के साथ—साथ हड्डिया कमजोर होती जाती हैं। 
 
ऐसे कर सकते हैं ऑस्टियोपोरोसिस पर कंट्रोल
 
आहार— बहुत कम कैल्शियम का होना ऑस्टियोपोरोसिस होने की संभावनाओं को बढ़ा सकते हैं। पर्याप्त विटामिन डी भी रोग का कारण बन सकता है। लिहाजा, कैल्श्यिम और विटामिन डी का सेवन कर आॅस्टियोपोरोसिस को रोका जा सकता है। 
 
शारीरिक गतिविधि— अगर आप एक्सरसाइज नहीं करते हैं और एक ही अव्स्था में बैठे रहकर काम करते हैं तो ऑस्टियोपोरोसिस का शिकार हो सकते हैं। व्यायाम से मांसपेशियों की तरह हड्डियां भी मजबूत बनती हैं। 
 
शरीर का वजन— बहुत पतले होने के नाते ऑस्टियोपोरोसिस होने की संभावना बढ़ जाती है। 
 
धूम्रपान— सिगरेट पीना आपमें कैल्श्यिम की कमी लाता है। इसके चलते कैल्श्यिम की कमी होती और आॅस्टियोपोरोसिस का शिकार हो जाते हैं। 
 
शराब— जो लोग शराब पीतें हैं उनमें भी कैल्शियम की कमी हो जाती है। 
दवाइयां—  कुछ दवाओं से हड्डी को नुकसान हो सकता। ये दवा glucocorticoids कही जाती है। Glucocortiocoids गठिया, दमा, और कई अन्य बीमारियों के इलाज के लिए दिया जाता है। 
 
इन पर आप काबू नहीं कर सकते 
 
आयु— ऑस्टियोपोरोसिस उम्र बढ़ने के साथ ही बढ़ जाता है। उम्र बढ़ने के कारण कैल्शियम की कमी हो जाती है। वहीं महिलाओं में आॅस्टियोपोरोसिस होने की संभावना पुरुषों के मुकाबले ज्यादा होती है। महिलाओं को पुरुषों की तुलना में छोटी हड्डियों है और उनमें कैल्शयम की कमी ज्यादा होती है। 
 
नस्ल— व्हाइट महिलाओं और एशियाई महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस की सबसे ज्यादा संभावना होती है। हिस्पैनिक महिलाओं और अफ्रीकी अमेरिकी महिलाओं में भी ये संभावना  रहती है हैं, लेकिन व्हाइट महिलाओं के मुकाबले कम होती है।

67,540 total views, 46 views today

It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

Related posts

Leave a Comment