रैबीज से दस मिनट में एक व्यक्ति की मौत्

रैबीज से दस मिनट में एक व्यक्ति की मौत्

ब्यूरो। रैबीज से हर दसवें मिनट में एक व्यक्ति की मौत हो रही है। खासतौर पर एशिया और अफ्रीका में मरने वालों की संख्या ज्यादा है। रैबीज के कारण हो रही मौतों पर गंभीरता जताते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कई दूसरे संस्थाओं के साथ मिलकर एक सामूहिक योजना तैयार की है। ताकि कुत्तों की आबादी को काबू में करने से लेकर सुलभ और सस्ता इलाज उपलब्ध कराया जा सके। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक एशिया और अफ्रीका के देशों में कुत्तों से काटने के मामलों में लगातार इजाफा हो…

1,599 total views, 6 views today

Read More

हरियाणवी सिनेमा को पहचान दिलाना मेरा मकसद : यशपाल शर्मा

हरियाणवी सिनेमा को पहचान दिलाना मेरा मकसद : यशपाल शर्मा

ब्यूरो। जाने माने सिने अभिनेता और रंगमंच कलाकार यशपाल शर्मा ने कहा कि हरियाणवी सिनेमा को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाना और स्थापित करना उनका मकसद है। इसके लिए वो हरियाणा में बनी दो फिल्मों में भी काम कर चुके हैं। जल्द ही वो फिल्मों के निर्देशन क्षेत्र में भी उतरेंगे। ताकि हरियाणा के सिनेमा को सही मुकाम तक पहुंचाया जा सके। हरिद्वार के चर्चित आश्रम मातृ सदन में यशपाल शर्मा अपने मित्र और साहित्यकार डॉ. निलय उपाध्याय से मुलाकात करने हरिद्वार पहुंचे थे। आश्रम में यशपाल शर्मा ने दो…

1,132 total views, 2 views today

Read More

सावधान! कुत्ते के काटने से मार सकता है लकवा

सावधान! कुत्ते के काटने से मार सकता है लकवा

ब्यूरो। पालतू और आवारा कुत्तों के काटने से आपको लकवा मार सकता है। कुत्ते की लार में मौजूद वायरस आपके शरीर में जाकर पूरा नर्वस सिस्टम तबाह कर देता है। इस बीमारी को आम तौर पर रैबीज के नाम से जाना जाता है। रैबीज कुत्ते के काटने से होता है। ये वायरल डिजीज जो दुनिया भर के 150 देशों में पाई जाती है। एशिया और अफ्रीका देशों में सबसे ज्यादा मौते होती हैं। भारत में भी कुत्ते के काटने के कारण सैकड़ों मौतें होती हैं। लाखों लोग सालाना कुत्ते के…

4,841 total views, 3 views today

Read More

सड़क दुर्घटनाओं में 12 लाख से अधिक की मौत

सड़क दुर्घटनाओं में 12 लाख से अधिक की मौत

ब्यूरो। दुनिया भर में सड़क दुर्घटनाओं में मरने वाले लोगों की संख्या चिंताजनक बनी हुई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल दुनिया भर में हुई अलग—अलग सड़क दुर्घटनाओं में 12 लाख 50 हजार लोगों ने अपनी जान गंवाई है। मरने वालों में अधिकतर आर्थिक रूप से कमजोर देशों के लोग शामिल हैं। रिपोर्ट के मुताबिक बढ़ते वाहनों की संख्या के मुकाबले मौतों की संख्या में कमी है लेकिन अभी भी सुधार की बेहद गुंजाइश है। सबसे बुरा हार अफ्रीकी देशों का है, यहां सबसे ज्यादा मौतें…

783 total views, 4 views today

Read More

ब्लड और ब्लड कंपोनेंट की अदला—बदली कर सकेंगे ब्लड बैंक

ब्लड और ब्लड कंपोनेंट की अदला—बदली कर सकेंगे ब्लड बैंक

केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी अनुमति, पहले नहीं थी गाइडलाइन ब्यूरो।  स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने नेशनल ब्लड ट्रॉन्फूजन काउंसिल की सिफारिश पर सुरक्षित रक्त सुनिश्चित करने और रक्त उत्पादों तक पहुंच बढ़ाने की अपनी प्रतिबद्धता के रूप में रक्त और रक्त के घटकों के बेहतर उपयोग की दिशा में दो प्रमुख पहलों की पहचान की है। पहला कदम एक ब्लड बैंक से दूसरे ब्लड बैंक को रक्त हस्तांतरित करना है। पहले इसकी अनुमति नहीं थी और अब इस कदम से रक्त की कमी वाले स्थानों पर…

1,231 total views, 5 views today

Read More

कम उम्र में भी दिल की बीमार हो रही महिलाएं 

कम उम्र में भी दिल की बीमार हो रही महिलाएं 

– मैक्स सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, देहरादून में हुआ चिंतन    ब्यूरो। आमतौर पर ये माना जाता है कि दिल की बीमारी उम्रदराज लोगों को ही होती है। लेकिन, युवाओं में बढ़ रही इस बीमारी ने इस मिथक को गलत साबित किया है। खासतौर पर महिलाओं में इसकी संख्या यकायक बढ़ी है।  हाल ही में किए गए अध्ययनों से स्पष्ट हो गया है अधिक संख्या में महिलाएं आज हृदय रोगों का शिकार हो रहीं हैं, ऐसे में यह मिथक दूर हो रहा है कि दिल का दौरा सिर्फ पुरुषों को होने…

5,985 total views, 6 views today

Read More

फाइब्रोमाइलजा तो नहीं आपकी थकान का कारण 

फाइब्रोमाइलजा तो नहीं आपकी थकान का कारण 

  अक्सर शरीर में थकान, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द, पेट में दर्द और समय पर नींद ना आना और मानसिक तनाव के कारण से आप परेशान रहते होंगे। क्या आप जानते हैं कि आपकी इस बिमारी के पीछे फाइब्रोमाइलजा हो सकता है। ये अर्थराइटिस से जुड़ा हुआ एक रोग हैं। आयुर्वेद के मुताबिक ये वात दोष के कारण होता है। आइये जानते हैं पतंजलि आयुर्वेद के रिसर्च विंग के प्रमुख डॉ. एम. हेमंत कुमार से आखिर क्या है फाइब्रोमाइलजा और अर्थराइटिस। क्या आयुर्वेद में फाइब्रोमाइलजा का ईलाज है और…

84,746 total views, 99 views today

Read More

ग​ठिया यानी जोड़ों के दर्द का कारण है मोटापा 

ग​ठिया यानी जोड़ों के दर्द का कारण है मोटापा 

ब्यूरो। यूं तो अर्थराइटिस यानी गठिया की बिमारी उम्र से जुड़ी हुई है। उम्रदराज लोगों में गठिया की बिमारी ज्यादा आम होती है, लेकिन मोटापा भी इसका प्रमुख कारण है। मोटापे के कारण गठिया होने के चांस ज्यादा हो जाते हैं। इसके अलावा महिलाओं में भी इसकी संभावना ज्यादा रहती है। अस्थि रोग विशेषज्ञों के मुताबिक गठिया से बचने के लिए नियमित व्यायाम की जरूरत है। विश्व अर्थराइटिस दिवस के मौके पर आइये जानते हैं आखिर क्या हैं गठिया रोग के लक्षण    ये हैं गठिया के लक्षण  — जोड़ों…

78,625 total views, 90 views today

Read More

हाथ-पैरों में दर्द और सुन्नपन मतलब शूगर की शिकायत 

हाथ-पैरों में दर्द और सुन्नपन मतलब शूगर की शिकायत 

ब्यूरो। शूगर यानी मधुमेह आधुनिक विश्व की सबसे घातक बिमारी है। भारत में भी इसके मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। इसके लक्षणों में ज्यादा प्यास लगना और वजन गिरना और थकावट रहना आदि हैं। लेकिन, यदि हाथ पैरों में दर्द, तलवों में जलन और सुन्नपन रहे तो समझ जाइये कि शूगर ने आपके शरीर को घेर लिया है। शूगर के कारण ही पैरों में अल्सर हो जाता है। क्योंकि शूगर का सीधा असर नर्वस सिस्टम पर पड़ता है। इससे बचने के लिए जरूरी है कि शूगर को कंट्रोल में रखा…

14,205 total views, 7 views today

Read More

स्तन के आकार में बदलाव हो सकता है स्तन कैंसर 

स्तन के आकार में बदलाव हो सकता है स्तन कैंसर 

ब्यूरो। स्तन कैंसर दुनिया भर में खतरनाक रूप लेता जा रहा है। भारत में भी स्तन कैंसर के मरीजों की संख्या बढ़ रही है। स्तन कैंसर स्तन की कोशिकाओं की अनियंत्रित ग्रोथ के कारण होता है। स्तन में गांठ बन जाने के कारण कैंसर होता है। हालांकि, स्तन कैंसर का यदि सही समय पर पता चल जाता है तो ये आसानी से ठीक किया जा सकता है। अगर इसका पता नहीं चलता तो ये शरीर के दूसरे हिस्सों में भी फैल सकता है। स्तन कैंसर विकसित और विकासशील देशों दोनों…

86,633 total views, 92 views today

Read More