‘2018 तक खुले में शौच से मुक्ति पाएगा छत्तीसगढ़’

maxresdefault

एजेंसी। छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री डॉ. रमन सिह ने घोषणा की है कि वर्ष 2018 के अंत तक छत्‍तीसगढ़ खुले में शौच करने से मुक्‍त(ओपन डिफिकेशन फ्री, ओडीएफ) प्रदेश बन जाएगा। हालांकि पूरे भारत को खुले में शौच से मुक्‍त करने का लक्ष्‍य अक्‍टूबर, 2019 तय किया गया है। वे पेय जल और स्‍वच्‍छता मंत्रालय द्वारा रायपुर में आयोजित दो दिवसीय स्‍वच्‍छ भारत मिशन(एसबीएम) के राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन में बोल रहे थे। यह सम्‍मेलन एसबीएम के फेज-एक के फोकस जिलों के जिला कलेक्‍टरों और अधिकारियों लिए आयोजित किया गया है।

मुख्‍यमंत्री ने एसबीएम के ब्रांड एम्‍बेसडर के रूप में महिलाओं को शामिल करने पर जोर देते हुए कहा कि छत्‍तीसगढ़ की लड़कियों ने अब शादी के लिए परिवार में शौचालय होने की पूर्व शर्त रखने लगी हैं। उन्‍होंने जोर देते हुए कहा कि इसके लिए छत्‍तीसगढ़ की सरकार ने प्रधानमंत्री उज्‍जवला योजना और रसोई गैस के वितरण में ओडीएफ प्रखंडों को प्राथमिकता देने का निर्णय लिया है।

वीडियो कॉन्‍फ्रेसिंग के जरिये पुडुचेरी की लेफ्टिनेंट गवर्नर श्रीमती किरण बेदी ने इस अभियन को जमीनी स्‍तर तक प्रभावी बनाने के लिए स्‍वच्‍छता की वास्‍तविक स्थितियों से राजनीतिज्ञों और अधिकारियों को संपर्क में रहने की आवश्‍यकता पर बल दिया। इसके लिए उन्‍होंने बताया कि कैसे उन्‍होंने अपनी कार से सायरन और लालबत्‍ती हटाकर पुडुचेरी के आसपास जाकर खुले में शौच की सच्‍चाई उन्‍होंने देखी है।

21,969 total views, 33 views today

It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

Related posts

Leave a Comment