ताकि खाद्य पदार्थों से होने वाले रोगों से बचाया जा सके

ताकि खाद्य पदार्थों से होने वाले रोगों से बचाया जा सके

विश्व स्वास्थ्य संगठन के खाद्य एवं कृषि संगठन की ओर से इटली के रो में तीन दिवसीय अधिवेशन का आयोजन किया गया। इसमें Codex Alimentarius Commission की ओर खाद्य सुरक्षा और इसकी गुणवत्ता को बेहतर बनाने के लिए कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर सहमति बनाई गई। ताकि दूषित खाद्य पदार्थों से होने वाले रोगों से इंसानों को बचाया जा सके। इसमें निम्न बिंदुओं पर ध्यान देने के लिए सभी देशों से आग्रह किया गया। ये बिंदु निम्न हैं, 1— बीफ और सूअर के मांस जानलेवा बैक्टीरिया Salmonella को कंट्रोल करना— बीफ…

25,424 total views, 22 views today

Read More

यूरोप पर जीका वायरस का खतरा मंडराया, चेतावनी जारी

यूरोप पर जीका वायरस का खतरा मंडराया, चेतावनी जारी

यूरोप पर जीका वायरस का खतरा मंडराया, चेतावनी जारी — डेंगू वाले मच्छर के काटने से फैलता है ब्यूरो। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने तेजी से अपना दायरा बढ़ा रहे जीका वायरस को लेकर चेतावनी जारी की है। इसके मुताबिक यूरोपियन देशों को इस ओर ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता है। जिन देशों में Aedes mosquitoes मौजूद हैं वहां इसकी ज्यादा संभावना बताई गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक गर्मियों के आखिर वक्त में ये फैल सकता है। जीका वायरस क्या है जीका वायरस जीका वायरस मच्छरों के जरिए होने…

8,668 total views, 9 views today

Read More

भारत की आधी आबादी करती है खुले में शौच 

भारत की आधी आबादी करती है खुले में शौच 

ब्यूरो। यूनिसेफ के मुताबिक भारत में कुल 59 करोड़ आबादी खुले में शौच करती हैं। ये भारत की पूरी आबादी का करीब आधा हिस्सा है। इसमें ग्रामीण क्षेत्रों की आबादी सबसे ज्यादा है। शहरों में भी खुले में शौच करने वालों की संख्या कम नहीं है। खासतौर पर मलिन बस्तियों और अस्थायी झुग्गी बस्तियों में शौचालयों की कमी होने के कारण एक बड़ी आबादी को खुले में शौच करने को मजबूर होना पड़ता है। इसका सीधा असर लोगों की सेहत पर पड़ रहा है। जलजनित रोगों के कारण खासोआम बीमार…

2,478 total views, 3 views today

Read More

रैबीज से दस मिनट में एक व्यक्ति की मौत्

रैबीज से दस मिनट में एक व्यक्ति की मौत्

ब्यूरो। रैबीज से हर दसवें मिनट में एक व्यक्ति की मौत हो रही है। खासतौर पर एशिया और अफ्रीका में मरने वालों की संख्या ज्यादा है। रैबीज के कारण हो रही मौतों पर गंभीरता जताते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कई दूसरे संस्थाओं के साथ मिलकर एक सामूहिक योजना तैयार की है। ताकि कुत्तों की आबादी को काबू में करने से लेकर सुलभ और सस्ता इलाज उपलब्ध कराया जा सके। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक एशिया और अफ्रीका के देशों में कुत्तों से काटने के मामलों में लगातार इजाफा हो…

1,517 total views, no views today

Read More

सावधान! कुत्ते के काटने से मार सकता है लकवा

सावधान! कुत्ते के काटने से मार सकता है लकवा

ब्यूरो। पालतू और आवारा कुत्तों के काटने से आपको लकवा मार सकता है। कुत्ते की लार में मौजूद वायरस आपके शरीर में जाकर पूरा नर्वस सिस्टम तबाह कर देता है। इस बीमारी को आम तौर पर रैबीज के नाम से जाना जाता है। रैबीज कुत्ते के काटने से होता है। ये वायरल डिजीज जो दुनिया भर के 150 देशों में पाई जाती है। एशिया और अफ्रीका देशों में सबसे ज्यादा मौते होती हैं। भारत में भी कुत्ते के काटने के कारण सैकड़ों मौतें होती हैं। लाखों लोग सालाना कुत्ते के…

4,348 total views, 1 views today

Read More

प्लेटलेट्स कम होने पर घबराने की जरूरत नहीं 

प्लेटलेट्स कम होने पर घबराने की जरूरत नहीं 

ब्यूरो। डेंगू के मरीजों में अक्सर प्लेटलेट्स तेजी से कम होने लगती हैं। कम होती प्लेटलेट्स को लेकर अक्सर मरीज और तीमारदार चिंतित हो जाते हैं। लेकिन, वरिष्ठ डॉक्टरों की मानें तो प्लेटलेटस का कम होना इतनी गंभीर बात नहीं है। डेंगू के प्लाजमा लीकेज होने और मल्टीपल ओरगन के फेल होने के कारण ही मौतें होती हैं। लिहाजा, प्लेटलेटस के कम होने से ज्यादा प्लाजमा लीकेज होने के लक्षण को परखना चाहिए। इतना ही नहीं लगातार उल्टी आना भी खतरे के निशानी है।  वरिष्ठ डॉक्टरों के मुताबिक डेंगू के…

7,632 total views, no views today

Read More

सुरक्षा ही डेंगू से बचने का एक मात्र उपाय

सुरक्षा ही डेंगू से बचने का एक मात्र उपाय

ब्यूरो। डेंगू एक वायरल रोग है, ये एडीज एजिप्टी नाम एक विशेष मच्छर के काटने से होता है। एक संक्रामक मच्छर के काटने पर पांच से छह दिन के बीच डेंगू रोग विकसित हो जाता है। डेंगू यानी हड्डी तोड़ बुखार डेंगू को हड्डी तोड़ बुखार के रूप में भी जाना जाता है। जब डेंगू से पीड़ित मरीज के शरीर से खून बहने लगे तो ये जानलेवा हो जाता है। यक अत्यधिक खतरनाक है और संक्रामक मच्छर के काटने से एक दूसरे को फैलता है। बरसात के दौरान बढ़ता है…

582 total views, no views today

Read More

हर दिन आठ सौ गर्भवती महिलाओं की मौत

हर दिन आठ सौ गर्भवती महिलाओं की मौत

ब्यूरो। दुनिया भर में हर रोज आठ सौ गर्भवती महिलाओं की जान जाती है। ये मौतें अधिकतर भारत जैसे विकासशील देशों में होती है। इनमें एशिया और अफ्रीकी महाद्वीप के देश शामिल हैं। इतना ही नहीं गरीबी और सही इलाज न मिलने के कारण इन मौतों को रोक पाना संभव नहीं हो पा रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकडों के मुताबिक प्रतिदिन मरने वाली आठ सौ जननियों में से अधिकतर कम उम्र की गर्भवती महिलाएं शामिल होती हैं। क्या है मौतों का कारण — अधिक खून बहना — प्रसव…

585 total views, no views today

Read More

दिल के रोग का ऐसे चलता है पता

दिल के रोग का ऐसे चलता है पता

अधिकतर लोगों को दिल की बिमारी का पता दिल का दौरा पडने पर पता चलता है। मेडिकल भाषा में दिल का दौरा पडने को एनजाइना कहा जाता है। लेकिन, कुछ जांच ऐसी हैं, जिनके माध्यम से आप दिल की बिमारी का पता लगा सकते है। इन जांच के बाद सही इलाज मिलने पर इंसान की जांच बच जाती है। ये जांच निम्न हैं— इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम (ईसीजी) और / या ‘तनाव ईसीजी’ ईसीजी परीक्षण के दौरान, एक इलेक्ट्रिक लीड्स या बिजली का सुराग  आपकी छाती, हाथ और पैर पर रखा जाता है।…

9,672 total views, 2 views today

Read More

भूकंप की दहशत को भूल नहीं पा रहे नेपाली

भूकंप की दहशत को भूल नहीं पा रहे नेपाली

ब्यूरो। भूकंप से हुए जान माल के भारी नुकसान के बाद नेपाल के प्रभावित लोग दिमागी रूप से पेरशान हो रह हैं। दिमागी दिक्कत से निपटने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन की मोबाइल टीमें काम कर रही है। इसके लिए अलावा कई अन्य देशों के डॉक्टर भी इसमें मदद कर रहे हैं। नेपाल में मई में 7.4 तीव्रता का भूकंप आया था। भूकंप ने नेपाल में भारी तबाही की थी। अभी तक मौत का आंकड़ा छह हजार को पार कर गया है। इतनी तबाही के बाद सबसे ज्यादा दिक्कत वहां…

396 total views, no views today

Read More