बिना दवाओं के भी हैं रोगों का इलाज संभव, जानिये कैसे, देखें वीडियो

बिना दवाओं के भी हैं रोगों का इलाज संभव, जानिये कैसे, देखें वीडियो

ब्यूरो। क्या आप परेशान है, क्या आपको कामयाबी नहीं मिल रही है, घर में झगडा, परिवार में क्लेश रहती है। क्या आपको अपने बिजनेस में हानि हो रही है, या किसी गंभीर रोग से पीडित हैं। अगर हां तो आपको इन सब समस्याओं का इलाज करने के लिए लाखों रुपए डॉक्टरों को देनें होंगे, जो दवाओं से आपका ईलाज करेंगे। लेकिन हरिद्वार के डा. अजय मगन एक ऐसी पद्धति लेकर आए हैं जो दुनिया की सबसे पुरानी तकनीक है और जो बिना दवाओं के इंसानों का इलाज करती है। डा….

19,774 total views, 12 views today

Read More

ताकि खाद्य पदार्थों से होने वाले रोगों से बचाया जा सके

ताकि खाद्य पदार्थों से होने वाले रोगों से बचाया जा सके

विश्व स्वास्थ्य संगठन के खाद्य एवं कृषि संगठन की ओर से इटली के रो में तीन दिवसीय अधिवेशन का आयोजन किया गया। इसमें Codex Alimentarius Commission की ओर खाद्य सुरक्षा और इसकी गुणवत्ता को बेहतर बनाने के लिए कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर सहमति बनाई गई। ताकि दूषित खाद्य पदार्थों से होने वाले रोगों से इंसानों को बचाया जा सके। इसमें निम्न बिंदुओं पर ध्यान देने के लिए सभी देशों से आग्रह किया गया। ये बिंदु निम्न हैं, 1— बीफ और सूअर के मांस जानलेवा बैक्टीरिया Salmonella को कंट्रोल करना— बीफ…

29,178 total views, 8 views today

Read More

‘2018 तक खुले में शौच से मुक्ति पाएगा छत्तीसगढ़’

‘2018 तक खुले में शौच से मुक्ति पाएगा छत्तीसगढ़’

एजेंसी। छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री डॉ. रमन सिह ने घोषणा की है कि वर्ष 2018 के अंत तक छत्‍तीसगढ़ खुले में शौच करने से मुक्‍त(ओपन डिफिकेशन फ्री, ओडीएफ) प्रदेश बन जाएगा। हालांकि पूरे भारत को खुले में शौच से मुक्‍त करने का लक्ष्‍य अक्‍टूबर, 2019 तय किया गया है। वे पेय जल और स्‍वच्‍छता मंत्रालय द्वारा रायपुर में आयोजित दो दिवसीय स्‍वच्‍छ भारत मिशन(एसबीएम) के राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन में बोल रहे थे। यह सम्‍मेलन एसबीएम के फेज-एक के फोकस जिलों के जिला कलेक्‍टरों और अधिकारियों लिए आयोजित किया गया है। मुख्‍यमंत्री ने…

23,215 total views, 6 views today

Read More

टूरिस्ट और ई—टूरिस्ट वीजा वाले ले सकेंगे योग शिविरों में भाग

टूरिस्ट और ई—टूरिस्ट वीजा वाले ले सकेंगे योग शिविरों में भाग

ब्यूरो। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने टूरिस्‍ट वीजा और ई-टूरिस्‍ट वीजा में अल्‍पकालीन योग कार्यक्रम शामिल करने का निर्णय लिया है। योग के महत्‍व और विश्‍व में इसके प्रचार-प्रसार को देखते हुए सरकार ने टूरस्टि वीजा के तहत अनुमन्‍य गतिविधियों की सूची में अल्‍पकालीन योग कार्यक्रम में भाग लेने को शामिल कर लिया है। सरकार ने अल्‍पकालीन योग कार्यक्रम को शामिल करने के साथ भारतीय औषधि पद्धति द्वारा अल्‍पकालीन चिकित्‍सीय उपचार को ई-टूरिज्‍म वीजा की अनुमन्‍य गतिविधियों में शामिल करने का फैसला किया है। इस समय टूरिस्‍ट वीजा के तहत विदेशियों…

16,384 total views, 5 views today

Read More

मधुमेह के लिए नई दवा आयुष—82 की विकसित

मधुमेह के लिए नई दवा आयुष—82 की विकसित

— हरिद्वार की कंपनी को दिया गया लाइसेंस ब्यूरो। राष्ट्रीय अनुसंधान विकास निगम (एनआरडीसी), विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार के वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान विभाग का एक उपक्रम है। एनआरडीसी ने मैसर्स चतुर्भुज फार्मास्युटिकल कंपनी, हरिद्वार के साथ मधुमेह के प्रबंधन के लिए एक आयुर्वेदिक फॉर्म्यूलेशन आयुष-82 के व्यावसायीकरण के लिए लाइसेंस अनुबंध किया है। एनआरडीसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, डॉ. एच. पुरुषोत्तम ने कहा कि आयुष-82 को केंद्रीय आयुर्वेदिक विज्ञान अनुसंधान परिषद (सीसीआरएएस), नई दिल्ली ने विकसित किया था जो आयुष (आयुर्वेद, योग, यूनानी, सिद्ध) मंत्रालय के…

17,155 total views, 1 views today

Read More

तंबाकू उत्पादों की प्लेन पैकेजिंग बचा सकती है जिंदगी

तंबाकू उत्पादों की प्लेन पैकेजिंग बचा सकती है जिंदगी

तंबाकू उत्पादों की प्लेन पैकेजिंग बचा सकती है जिंदगी ब्यूरो। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मुताबिक तंबाकू उत्पादों की प्लेन यानी (standardized) पैकेजिंग लोगों का जीवन बचा सकती है। ऐसा करने से तंबाकू के उत्पादों के सेवन में कमी आएगी। प्लेन पैकेजिंग तंबाकू उत्पादों के लोगो, कलर, ब्रांड तस्वीर और प्रचार सामग्री को बैन करती है। दुनिया के कई देशों ने इसका प्रयोग कर तंबाकू उत्पादों के प्रयोग में कमी लाने में कामयाबी हासिल की है। 2012 में आॅस्ट्रेलिया दुनिया का पहला देश बना जहां प्लेन पैकेजिंग को प्रयोग में लाया…

1,393 total views, no views today

Read More

इस बीमारी का दुनिया में कोई इलाज नहीं

इस बीमारी का दुनिया में कोई इलाज नहीं

इस बीमारी का दुनिया में कोई इलाज नहीं  ब्यूरो। दुनिया में एक ऐसा रोग है जिसके हर साल हजारों मरीज सामने आते हैं। लेकिन, आज तक इसकी जड़ तक कोई नहीं पहुंच पाया है। आखिर ये बीमारी होती क्यों है और इसका स्थायी इलाज क्या है। सिर्फ लक्षणों के आधार पर ही इसका उपचार किया जाता है। इस बीमारी को मेडिकल की दुनिया में Multiple Sclerosis मल्टीपल स्केलरोसिस के तौर पर जाना जाता है। इस बीमारी के प्रति जागरूकता लाने के लिए मई के आखिरी बुधवार को दुनिया भर में…

12,182 total views, 3 views today

Read More

यूरोप पर जीका वायरस का खतरा मंडराया, चेतावनी जारी

यूरोप पर जीका वायरस का खतरा मंडराया, चेतावनी जारी

यूरोप पर जीका वायरस का खतरा मंडराया, चेतावनी जारी — डेंगू वाले मच्छर के काटने से फैलता है ब्यूरो। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने तेजी से अपना दायरा बढ़ा रहे जीका वायरस को लेकर चेतावनी जारी की है। इसके मुताबिक यूरोपियन देशों को इस ओर ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता है। जिन देशों में Aedes mosquitoes मौजूद हैं वहां इसकी ज्यादा संभावना बताई गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक गर्मियों के आखिर वक्त में ये फैल सकता है। जीका वायरस क्या है जीका वायरस जीका वायरस मच्छरों के जरिए होने…

10,698 total views, 3 views today

Read More

जानलेवा साबित हो सकता है लू का लगना

जानलेवा साबित हो सकता है लू का लगना

जानलेवा साबित हो सकता है लू का लगना हीट स्ट्रोक यानी लू का लगना एक स्थिति है जब आपकी बॉडी  ज्यादा गरम हो जाता है। ये उच्च तापमान में ज्यादा शारीरिक श्रम के कारण होता है। जब आपके शरीर का तापमान 40 डिग्री या 104 फारेनहाइट या इससे अधिक हो जाए तो हीट स्ट्रोक की संभावना ज्यादा हो जाती है। हीट स्ट्रोक में तुरंत उपचारक की जरूरत होती है। उपचार ना मिलने की स्थिति में ये आपके दिमाग, दिल, डिकनी और मांसपेशियों को नुकसान पहुंचा सकती है। इसे नजरअंदाज करना…

12,235 total views, 1 views today

Read More

इस वजह से आप हो जाते हैं गंजे

इस वजह से आप हो जाते हैं गंजे

बालों का झड़ना इन दिनों आम हो गया है। ये आपके सिर और पूरे शरीर से भी हो सकता है। बालों का झड़ना कई कारणों से हो सकता है। इनमें वंशानुगत, हार्मोनल बदलाव और मेडिकेशन के कारण अहम हैं। बालों का झड़ना एक उम्र के बाद होता है। लेकिन, ये मर्दों, महिलाओं और बच्चों में भी हो सकता है। बालों के झड़ने को गंजापन भी कहा जाता है। गंजापन मुख्य रूप सिर से बड़ी संख्या में बालों का झड़ने के कारण होता है। वंशानुगत तरीके से बालों का उड़ना सबसे…

8,479 total views, 1 views today

Read More